आयरन मैन का हेलमेट – मेरे घर की कहानी

आयरन मैन का हेलमेट - मेरे घर की कहानी

Last Updated on

“पापा ये आयरन मैन वाला हेलमेट सबसे मजबूत है, भुल्ली (छोटी बहन) को इसे पहना दो, इससे भुल्ली के गिरने ओर चोट लगने का खतरा नहीं रहेगा”, कहकर जैसे ही नन्हे कान्हा ने वैष्णवी की ओर अपना नया आविष्कार बढ़ाया तो मम्मी ने रोक दिया, “पहले मैं देख तो लूँ कि मेरे नन्हे साइंटिस्ट ने कैसा हेलमेट बनाया है” ऐसा कहकर कान्हा की मम्मी ने अपने बेटे के नए आविष्कार को हाथ में लिया और मेरी ओर देखते हुए मंद मंद मुस्कान के साथ बेटे के नए अविष्कार को निहारने लगी।
नमस्कार! मैं 8 वर्षीय आदित्य (कान्हा) ओर  वैष्णवी (4 माह) का पिता हूँ। आजकल कोरोना महामारी से उत्पन्न लॉकडाउन की वजह से स्कूल की पढ़ाई से हटकर मेरे बेटे को एक नया शौक जागा है – ‘अलग-अलग तरह के हेलमेट बनाने का’।
वैसे तो कान्हा अब तक 10-12 किस्म के हेलमेट बना चुका है लेकिन वो सब गत्ते, कागज ओर रंगों के सयुंक्त मिश्रण से बने हैं और इस कड़ी में आज उसने बनाया है, “आयरन मैन वाला हेलमेट” जिसके लिए छोटी प्लास्टिक की बाल्टी ओर अन्य घरेलू उपकरणों का इस्तेमाल (बलिदान) किया गया। और यह उसने बनाया है अपनी भुल्ली वैष्णवी की सुरक्षा के लिए। 
खैर, सुरक्षा जैसे भी हो लेकिन उसके दिमाग मे उपजे ऐसे भाव के लिए Thank you beta! You are my little Scientist.😊👍
Thank you FirstCry… For giving me a special platform to publish my kid’s story!
मुझे मालूम है कि हम सभी के घरों मे हमेशा इस तरह की कहानियां होती रहती हैं। बच्चों की हर एक्टिविटी में कोई न कोई कहानी छिपी होती है, लेकिन अपनी व्यस्त जीवनशैली में या तो हम इन्हें नजर अंदाज कर जाते हैं या फिर इन्हें छोटी मोटी बातें समझकर इन पर पर ध्यान नहीं दे पातें और जिंदगी के असली आनंद से वंचित रह जाते हैं।

Disclaimer: The views, opinions and positions (including content in any form) expressed within this post are those of the author alone. The accuracy, completeness and validity of any statements made within this article are not guaranteed. We accept no liability for any errors, omissions or representations. The responsibility for intellectual property rights of this content rests with the author and any liability with regards to infringement of intellectual property rights remains with him/her.