कुछ कविताएं: प्रीती सुख का स्वागत (कविता), हिंद देश की जय भारती (कविता)

कुछ कविताएं: प्रीती सुख का स्वागत (कविता), हिंद देश की जय भारती (कविता)

1. प्रीतीसुख का स्वागत (कविता)

छोड़ बाबुल का अंगना,
संग आई तेरे सजना,
प्रीत की बंधी तुझसे डोर,
मन हो गया विभोर,

माथे की बिंदिया लगायी तेरे नाम की,
श्रृंगार रूपी गहनों से सजी प्रीत ले स्वागत की,
मनभावन फूलों की सुगंध से महके मेरा सौभाग्य,
नवोदय की आगाज पर मिले मनमीत यह मेरा अहो-भाग्य,

सजना मधुरम नवजीवन की करेंगे हम शुरुआत,
दोनों के समागम  भावनाओं से होगी रस बरसात,
बुनियादों का कर त्याग हमें करना कुरितियों का हनन,
गर तुम निभाओ साथ मेरा सुखद होगा ये नवजीवन,

ओ सजना मेरे,
सुख-दुख जीवन के पहलू दो,
प्रीत के सागर में साथी दो,
हम दोनों प्रेमरस से एकरूप हो जाएं,
इस शीतल चांदनी में,
सूरज की रोशनी में,
विशाल क्षितिज पर,
छबि निर्मित करें,
नये आलिंगन नवचेतना लिए,
भावों के नादमधुर सूरताल के साथ,
स्वागतम करें इस नवजीवन की,

मुझे यकीन है हमारा जीवन अवश्य होगा साकार,
दुःखों के कांटे कितने ही चूंभे फूलों की होगी अवश्य बहार,
हम दोनों की प्रीत का संगीत याद करेगा यह संसार।।

2. हिंद देश की जय भारती (कविता)

आज गाँव की हर लड़की देख रही सपना,
पुलिस की ट्रेनिंग लेकर देश में नाम करें अपना,
प्रयास करेंगे हम अपने दम पर,
दिखा देंगे दुनिया को अपना हुनर,

रूढ़िवादी मानसिकता की परवाह किए बिना,
बढ़ना है आगे,
पहनकर वर्दी  चलना है पुरुष सैनिकों के संग,
इस कड़ी ताकत को देख दुश्मन भी भागे,

नित नई उम्मीदें लिए उमंगता को रखना है कायम,
निडर होकर सामना करने की खाई है हमने कसम,

सरकार को महिलाओं को युद्ध की वर्दी में लाना है जरूरी,
भारतीय सशस्त्र बलों में लैंगिक असमानता की कम होगी दूरी,

महिलाओं का लिया हुआ संकल्प पूरा करने का है कुछ अर्थ,
नौसेना की पनडुब्बियों व सेना के टैंकों पर उनको तैनात  करने में  होंगे समर्थ,

भारतीय वायु सेना में महिला लड़ाकू पॉयलटों को किया है शामिल,
गंभीरता से काम कर रही ये,
देश के लिए काबिल,

गर उनको युद्धक भूमिका की अनुमति दी जाएगी,
भारतीय वीर सैनिकों की वीरता में अपार गति आएगी,

अब महिलाएं निकल पड़ी है करने हर चुनौती का सामना,
उन्होंने भी सीख लिया है निडर होकर हर भूमिका को निभाना,

जय हिंद जय भारत के जयकारे  हैं लगाती,
यहीं तो हैं हिंद देश की जय भारती।।

Disclaimer: The views, opinions and positions (including content in any form) expressed within this post are those of the author alone. The accuracy, completeness and validity of any statements made within this article are not guaranteed. We accept no liability for any errors, omissions or representations. The responsibility for intellectual property rights of this content rests with the author and any liability with regards to infringement of intellectual property rights remains with him/her.

Previous articleMotherhood and Me – How FirstCry Helped Me on My Motherhood Journey
Next articleBirth of a Baby is Rebirth of a Mother